मंगलवार, 26 अक्तूबर 2010

रजनीति से तो सात पीड़ी को रोजगार मिल जाता है ...

2 टिप्‍पणियां:

  1. सुरेन्द्र जी,
    ब्लाग का नाम पढ़ कर चौंका, और यहाँ आ पहुँचा। यह नाम तो किसी आस पास वाले का होना चाहिए। बिलकुल सही स्थान पर पहुँचा हूँ। कार्टून अच्छे हैं।

    उत्तर देंहटाएं